Saturday, April 14, 2012

AB HOGA DHARNA UNLIMITED

PR Wasim Siddiqui with actor Sunil Pal
Anna Hazare used Gandhiji's non-violent ways of Dharna for his anti-corruption crusade. However, dharnas, i.e. strikes have now become quite common and anybody and everybody who is somebody wants to sit on a dharna without any rhyme or reason and thereby diluting the impact of genuine dharnas by people like Anna Hazare and his team. Film "AB HOGA DHARNA UNLIMITED" is based on this particular issue. Released on 13th April 2012, film is getting critically acclaimed by many critics. We decided to meet stand-up comedian and actor Sunil Pal at his residence in Juhu and asked his experience and opinion during the making of this film.

Sunil Pal who has played the role of Guru, main protagonist in this film, said “Dharna is not a new trend in India but this time around 'dharna' is widely used for publicity gimmick rather than for a social cause. In recent times, the frequency of 'dharnas' as well as their truth was highlighted when leaders like Yoga guru Baba Ramdev and social activist Anna Hazare’s 'dharna’s' failed to attract the required public support, we had tried to show side effects of Dharna”.

Writer & Creative Director Navin Batra got so overwhelmed by the response this film is getting that he instantly announced a sequel of this film which will be going shortly on the floors and will be released by Nov 2012. The film stars Omkar Das Manikpuri (Natha of Peepli Live), Milind Gunaji, Mushtaq Khan, Sunil Pal, Ehsaan Qureshi and Chandra Bhusan Singh,Rekha Rana, Shaurabh Malik,  Deepak Tanwar, Sunil Parashar as the main cast of the film.




सुनील पाल "अब होगा धरना अनलिमिटेड" 
 आजकल हर बात पर लोग धरने पर बैठ जाते हैं, वो ये नहीं सोचते की इससे जनता और सरकार का कितना नुकसान होता है. यह फिल्म  "अब होगा धरना अनलिमिटेड" इसी बात पर आधारित है, फिल्म १३ अप्रैल को प्रदर्शित हो चुकी है और इसे समीक्षकों का अच्छा खासा प्रतिसाद मिल रहा है. कामेडियन और अदाकार सुनील पाल से इस अवसर पर उनके घर जुहू में उनकी इस फिल्म के बनने और प्रदर्शन के बारे में उनकी प्रतिक्रिया ली गयी.

सुनील पाल फिल्म "अब होगा धरना अनलिमिटेड" में एक सन्यासी बाबा की भूमिका निभाई है, उनका कहना है "धरना हिंदुस्तान में नई चीज नहीं है, पर अब इसे मात्र प्रचार के लिए प्रयोग किया जा रहा है ना की जनता की भलाई के लिए. इस बात का सबूत है हाल ही में बाबा रामदेव और अन्ना हजारे के धरना को जनता का जरूरी प्रतिसाद नहीं मिला. हमने "अब होगा धरना अनलिमिटेड" में धरने से जनता को होने वाली परेशानियों को हास्यात्मक तरीके से दिखाने की कोशिश की है".

 "अब होगा धरना अनलिमिटेड" के लेखक और क्रीअटीव निर्देशक नविन बत्रा फिल्म को प्राप्त होने वाली प्रतिक्रिया से काफी उत्साहित हैं, उन्होंने फिल्म के दूसरे भाग बनाने का एलान कर दिया जो की साल के अंत तक प्रदर्शित होगी. फिल्म "अब होगा धरना अनलिमिटेड" में ओमकार दस मानिकपुरी (पीपली लाइव के नाथा), मिलिंद गुनाजी, मुश्ताक खान, सुनील पाल, एहसान कुरैशी, साथ ही चन्द्र भूषण सिंह, रेखा रना, शौरभ मालिक, दीपक तंवर व सुनील पराशर फिल्म के प्रमुख पत्र हैं.